भोजपुरी सेक्सी गाना चाहिए

हिंदी सेक्स रोमांस

हिंदी सेक्स रोमांस, मैंने कहा- तुम तैयार हो जाओ, हम लोग अभी निकलेंगे और दोपहर का खाना भी बाहर खायेंगे क्योंकि मेरी मम्मी बुआ के घर गई हैं और तुम्हारी भाभी (मेरी पत्नी चूंकि टीचर है) तो शाम तक आएँगी, आज मैं शॉपिंग के साथ तुमको पार्टी भी दूँगा। मैं हूँ मेरी जान, तुम्हारा चाहने वाला. हाए अच्छा हुआ तुम जाग गयी. क्या मस्त जवानी पाई है. आज मैं तुमको??.. और किसी भूखे कुत्ते की तरह मुझे अपनी बाँहो मे कसता मेरी दोनो चूचियों को टटोलता बोला, हाए क्या गदराई जवानी है.

इधर उत्तेजना से मेरा हाल बुरा हो रहा था, लग रहा था कि मैं ऐसे ही झड़ जाऊँगा और उधर अंजली का भी बुरा हाल था, उसकी भी साँसें बहुत तेज चल रही थीं। नाज़िया : समीर तुम हटो पीछे ये ये क्या कर रहे हो......मैं तुम्हे नही छोड़ूँगी.....तेरे अबू को अभी फोन करके बताती हूँ.....हटो पीछे…कंज़र कही के उठ मेरे ऊपेर से….

चाची: मेरी गान्ड का सुराख....ऐसे लग रहा है....जैसे अभी भी खुला है...बहुत अजीब सा लगता है....जब मैं चलती हूँ..... हिंदी सेक्स रोमांस जब थोड़ी देर तक नाज़िया ने कोई हरक़त ना की तो, मैने अपने दोनो हाथो को उसकी बुन्द पर लेजा कर उसकी बुन्द दबाते हुए सरगोशी से उसके कान में कहा….क्या हुआ…..?

बॉलीवुड सेक्सी व्हिडिओ

  1. अरे तुम्हारी दोनों सहेलियां है ना बेला और सुलेखा वह दोनों क्या काम है क्या वह सब भी फोन पर अपने बॉयफ्रेंड से बातें करते हैं।
  2. इसे यूँ ही चलने दो सुनील… कोमल और मेरे पास तुम्हारे लिये बहुत कुछ विशेष है… ये कहकर मनीषा ने सुनील का हलब्बी लौड़ा अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी। कल्याण डे का चार्ट कल्याण डे का चार्ट
  3. क्या बोलना चाहती हो बोलो,,,पुनम,,,,, ( मनोज अपने चेहरे पर हल्की सी मुस्कुराहट लाते हुए बोला और उसकी यह मुस्कुराहट देखकर पूनम उसकी दीवानी हो गई वह ऊसकी आंखों में ही झांके जा रही थी।,,,) तुम्हे मुझे चोदना होगा. अपना लंड अपनी पॅंट से बाहर निकालो, पिछले एक घंटे से सहन किए जा रही हूँ. जल्दी से अपने लंड को मेरी चूत में डाल कर मुझे जोरों से चोदो.
  4. हिंदी सेक्स रोमांस...डॉली थोड़ा कसमसाई, पर पकड़ मजबूत थी। मैंने तुरंत दूसरा जो से धक्का मारा, इस बार लंड टाइट चुनमूनियाँ की दीवारों को रगड़ता हुआ आधा घुस गया। अहमद ने थोड़ा सा शरमाते हुए मेरी तरफ देखा और दूसरा पेग खींच कर बोला… कहाँ ख़ान शहाब यार मैं तो तंग आ गया हूँ….सिर्फ़ पैसो के लिए ये सारे काम कर रहा हूँ…यार इन औरतों ने तो मुझे चूस कर रख दिया है…. अहमद ने थोड़ा गुस्से में कहा….और फिर तीसरा पेग बना कर भी खेंच लिया
  5. मगर विनोद और सपना की दावत में शिरकत करने की वजह से मेरी ये ख्वाइश अधूरी रह गई. जिस की वजह से मेरी गरम चूत की अभी तक तसल्ली नही हो पाई थी. नज़ीबा: ओह समीईररररर आइ लव यू आइ लव यू सो मच….अम्मी से मेरा हाथ माँग लो…और उनको बोल देना कि मैं अपना प्यार उनके साथ बाँटने के लिए तैयार हूँ….ल् लव यू समीर…..आइ रियली लव यू….मेरी जान….

हिमाद्रि तुंग श्रृंग से कविता है

समीर...... उसने मेरे लंड को देख कर गरम होते हुए कहा.....और अगले ही पल उसने अपने दूसरे हाथ से मेरे लंड को पकड़ कर अपनी जीभ बाहर निकालते हुए मेरे लंड की एक साइड से लंड को चाटना शुरू कर दिया....

अब एक बार फिर से मेरी नज़र के सामने उसकी गीली कमीज़ में से झाँकते उसके 38 साइज़ के मम्मे और बड़े-2 निपल्स थे…मुझ से अब बर्दास्त नही हो रहा था हम दोनो छत पर बने स्टोर रूम के साथ खड़े थे…मैने अपने बाजू को झटकते हुए उसे अपना हाथ छुड़ा लिया और नाज़िया को धक्का देकर स्टोर रूम की दीवार से लगा दिया मरती क्या ना करती. मेने अपने हाथ हटा लिए. मास्टर जी ने मेरी टाँग फैला दी और चूत सहलाने लगे. उंगली भी घुसाइ. थोड़ी देर तक ये सब करने क बाद वो बोले, बेटी अब मेरी गोदी मे बैठ जाओ. मैं उनके पैरो पर जाँघ के उपर बैठ गयी. मेरे दोनो पैर बाहर की तरफ थे.

हिंदी सेक्स रोमांस,मैं: यार भूल जाओ…कि तुमने कुछ कहा था और मैने सुना था…मैने तुम्हे उस दिन ही कहा था कि, हम पीने वाले एक दूसरे के राज़ को राज़ रखते है…कहा था कि नही कहा था….

जैसे ही मुझे अहसास हुआ कि, सुमेरा उठ कर बाहर आने वाली है….मैं वहाँ से निकल कर बाहर आ गया…और गली के मोड़ तक चला गया….

नाज़िया: तुम्हारे अब्बू अब दूसरी शादी करना चाहते है….जिस दिन वो आए थे…उस दिन उन्होने मुझसे बात की थी….हरिवंश राय बच्चन की कविता कोशिश करने वालों

उसकी निपल्स ऐसे तनी हुई थी….कि अगर कोई एक बार देख ली, तो वहीं उसका लंड पानी छोड़ दे. मेरे हालत भी कुछ ऐसे ही थी. पर मेने अपने आप पर कंट्रोल किया. और आगे की ओर झुकते हुए, उसके राइट निपल को मूह में भर लिया. आह समीररर्र्र्ररर ओह उंह धीरीए धीरीईए बहुत गुदगुदी हो रही है………..ओह उंह सीईईईईईई दूसरा प्रकरण लेप महिमा का है इसमें स्त्री-पुरुष में परस्पर आकर्षण हेतु विभिन्न प्रकार के औषधीय लेप बताए गए हैं।

और दूसरा कि ड्रिंक पीने के साथ साथ यासिर का ध्यान और नज़रें इधर उधर घूमती सपना की तरफ बार बार जा रही थी.

रीदा उठ कर बाहर चली गयी…रीदा की बात सुन कर मेरा खून खोल उठा…मेरे अंदर मानो शैतान घर कर चुका था….मैं तेज़ी से बाहर निकल कर रीदा के पीछे जाने लगा… अभी रीदा गेट तक ही पहुचि थी कि, मैने पीछे से रीदा के बालो को पकड़ते हुए उसे साइड मे दीवार के साथ लगा दिया…रीदा की फ्रंट साइड दीवार से दब गयी…,हिंदी सेक्स रोमांस मैने पूछा अब दर्द कम हुआ? उसने कहा.. हां.. और अब मैने लंड को बाहर खींचा और करारा झटका देते हुए पूरे लंड को जड़ तक उसकी चूत मे पेल दिया वो फिर चिल्लाई..ऊओ. .मार गाइिईईई. .लेकिन मेरे धक्के चालू थे..

News