एक्सएक्सएक्स रिलीज़ दिनांक भविष्य 2018 राशिफल

ट्रेन में चुदाई

ट्रेन में चुदाई, महुआ –छोड़ो चाची! अब मैं बच्ची नहीं रही चन्दू चाचा ने मेरा इलाज कर मुझे जवान औरत बना दिया आप की टक्कर की, सो फ़िकर ना करें मैं कल सुबह आ रही हूँ आपको अशोक की तरफ़ से दी जाने वाली इस रोज रोज कि थकान और हाँफ़ी से छुटकारा दिलाने। ये देख अशोक ने उन्हें और परेशान करना ठीक नही समझा उसने हाथ बढ़ाकर चाची की सेर सेर भर की चूचियाँ थाम लीं और उन्हें दबाते हुए लण्ड का सुपाड़ा चूत मे धकेला।

गुड़िया- आह.. भइया उफ़.. आराम से आह.. चूसो.. आह.. सारा रस पी जाओ.. आह.. मज़ा आ रहा है भाई.. आह.. आह..काट डालो इन निप्पलों को बहुत परेसान करते है। कुत्ते का वीर्य अब नजीबा की जीभ पर बाढ़ की तरह लगातर बह रहा थ। हालांकि कुत्ता अभी झड़ा नहीं था परंतु उसका आरंभिक रिसाव भी किसी आम आदमी के संपूर्ण । - स्खलन से अधिक प्रचुर था। नजीबा मस्त हो कर उसे निगल रही थी।

अनिता अपने हाथ को नीचे ले गयी और उसके लंड को पकड़ लिया…और शरमाते हुए राज को बोला…ये बहुत परेशान कर रहा है…..लगता है काफ़ी भूखा है. ट्रेन में चुदाई नजीबा को चिंत होने लगी थी कि दूसर कुत्ता, बेचरा जो इतनी देर से उपेक्षित था, कहीं ऐसे ही झड़ ना जाये और उसका गर्म और गाढ़ा वीर्य व्यर्थ हो जाये। नजीबा हाथ बढ़ा। कर उसके लंड और टट्टों को सहलाना चाह रही थी लेकिन उसे डर था थी कि कहीं गल्ती से कुत्ता झड़ ना जाये।

अंगणवाडी च्या आजच्या बातम्या

  1. सुबह पाँच बजे अमिताभ उठा तो उसके सामने ही ऐश सो रही थी और वो पूरी नंगी ही थी। उसके पैर फैले हुए थे और चूत एकदम खुली दिख रही थी। ये नजारा देखते ही अमिताभ का लण्ड एकदम से खड़ा हो गया, तो । अमिताभ ने ऐश को लेटे हुए ही बाहों में लिया और एक पैर उठाकर लण्ड ऐश की चूत में घुसेड़ दिया।
  2. ऊहहह.. मजा आ गया यार.. चूत का हर हिस्सा, हर रेशा निहाल हो गया... एंड सो मच स्पंक... कैन यू इमैजिन...', शाजिया ने अंगड़ायी लेते हुए कहा।। ब्लू पिक्चर वीडियो सेक्सी सेक्सी
  3. उस रात मैने प्रीति की गांड सुबह तक और दो बार मारी. गांड में से लंड सारी रात नहीं निकाला. मन भर कर उसे भोग लिया. माया देवी ने अपने गरदन के पसीने को पोंछते हुए, अपनी ब्लाउज के सबसे ऊपर वाले बटन को खोल दिया और साड़ी के पल्लु को ब्लाउज के भीतर घुसा पसीना पोंछने लगी। पसीने के कारण ब्लाउज का उपरी भाग भीग चुका था। ब्लाउज के अन्दर हाथ घुमाती बोली,
  4. ट्रेन में चुदाई...बस??? हो गया? मेरा तो अभी ही शुरु हुआ है भैया जी... शिवेन्द्र ने डिस-अपॉइंट होते हुए कहा! उसके लिये तो सही वाली के.एल.पी.डी. थी! कल भी जाइन की वजह से उसे गुडिया की चूत बीच मे ही छोडनी पडी थी... साड़ी उसके शरीर से चिपकी हुई थी और गोरा रंग खिलकर दिख रहा था.पूरी तरह भीगी हुई अपने धुन में गाने गा रही थी,वो मस्त थी और उसकी मस्ती को देखकर अजय भी मस्त हुए जा रहा था …
  5. नजीबा जोर-जोर से मस्ती में कराहने लगी। उसे ऐसा महसूस हो रहा था जैसे उसकी चूत तेल के कुँए की तरह ड्रिल हो गयी हो। गधा उसकी चूत में अपने लंड की पूरी पैंठ बनाये हुए था और उसके पुठे फड़क रहे थे। तिपाया स्टूल पर कुलबुलाती और कसमसाती हुई नजीबा की चूत उसके धंसे हुए लंड पर खिंच रही थी। उस गधे ने अब लगातार अपना लंड नजीबा की चूत में पेलना चालू कर दिया। नजीबा भी उसके धक्कों के साथ हिलती हुई अपनी चूत नीचे ढकेल कर उसके धक्कों का साथ देने लगी और जब गधा अपना लंड बाहर खींचता तो वो अपनी गाँड और चूतड़ लकड़ी के

सेक्सी दिखाओ ब्लू फिल्म

और फोन काट दिया…….और फिर कारण ने अपना कॉन्वर्सेशन को अपने बॉस मिस्टर. जोशी को बता दिया……………………………………………………………

मेरी समझ में कुछ आने के पहले ही अचानक गरम तपती खारी तेज धार मेरे गले में उतरने लगी. चाचाजी मेरे मुंह में मूत रहे थे. मैं सकपकाकर उनका लंड मुंह से निकालने की कोशिश करने लगा. पर वे तैयार थे. मुझे पलंग पर पटककर मेरे सिर को अपने पेट के नीचे दबाकर अपना पूरा वजन मुझपर देकर वे ओंधे सो गये. स्मृति: पर क्यो??? आप गेस्ट है...दिक्कत होगी......और फिर मेरा पेट खराब है....बार बार टाय्लेट जाना होता है...इस रूम टाय्लेट है नही...........मेरे रूम मे अटॅच्ड बाथरूम है..........

ट्रेन में चुदाई,झड़ने पर वीर्य भी सीधा उनके हलक में जाता. इसीलिये यह आसन वे कम करने देती थीं. एक तो उनका गला भी थोड़ा दुखता, दूसरे वीर्य सीधा पेट में जाने से वे उसका स्वाद नहीं ले पाती थीं जबकि जीभ पर वीर्य लेकर उसे स्वाद ले लेकर धीरे धीरे खाना उन्हें बहुत अच्छा लगता था.

मामी की गद्देदार माँसल चूचियों को मदन, सच में शायद लंगड़ा आम समझ रहा था। कभी बायीं चूची मुंह में भरता तो कभी दाहिनी चूची को मुंह में दबा लेता। कभी दोनो को अपनी मुठ्ठी में कसते हुए बीच वाली घाटी में पुच,,,,पुच करते हुए चुम्मे लेता, कभी उर्मिला देवी की गोरी सुराहीदार गरदन को चुमता।

चम्पा के कमर के नीचे की गोल गोल चूतड़ों में हाथ फेरते हुए उसके कोमलता के अहसास से अजय की आंखे बंद हो रही थी ,वही हाल चम्पा का भी था,सेक्सी वीडियो हीरोइन वाला

वे जमीन पर एक चटाई पर लेट गये. मैंने दरवाजा लगा लिया और फ़िर हाथ में तेल लेकर उनके पास नीचे बैठकर उनकी मालिश करने लगा. मैने चोदते चोदते ही जवाब दिया रीना मेरी जान आज तुमने मामी को गांड मराने के लिये राज़ी किया है, आज जो भी कहोगी करूंगा

निर्माला को तभी संतोष की काँटा लगने वाली बात याद आ गई और निर्मला को यह भी याद आया की कैसे संतोष का बेटा काँटा निकालने के बहाने अपनी माँ की

सालो के बाद किसी के साथ बैठी हु ..पहले पिता जी ले जाय करते थे,जबसे पिता जी का देहांत हुआ और मोंगरा डाकू बन गई बाहर की दुनिया देखने को भी नसीब नही हुआ,ट्रेन में चुदाई अजय तो जैसे किसी मूर्ति सा स्थिर हो गया था,मोंगरा ने थोड़ी देर ही उसे घूरा जैसे उस अंधेरे में देख रही हो की वो कौन था और अनायास ही उसके होठो में मुस्कुराहट सी आ गई ..वो बलवीर की ओर हुई और उसकी छाती को चूमने लगी …

News