राजस्थान पत्रिका उदयपुर

भाई की चुदाई दिखाओ

भाई की चुदाई दिखाओ, यह सुनकर अंकल ने कहा- बेटी, वो गलती से तुम्हारे पैंटी में घुस गया है, तुम कोई टेंशन मत करो, वो घुसा रहने से कोई हर्ज़ नहीं है। तभी दरवाजे की बैल बाजती है। आरोही घबराकर लेपटाप बंद कर देती हैं। आरोही की धड़कनें ऐसे चलने लगी, जैसे अभी कई सौ सीदियां चढ़कर आई हो। और आरोही दरवाजा खोल देती है।

मैंने अपनी अपनी मम्मी को घूरते हुए गुस्से से देखा कि वो कहाँ फंसा रही हैं। मम्मी ने तुरंत मेरा चेहरा पढ़ लिया और बोली बना ले वरना तो हम लेट हो जायेंगे, घर पर ओर भी काम पड़े हैं। अरे एक रात में तो दो दर्जन की एक दर्जन हो जायेगी , और कुछ खेत में टूटेगी कुछ पलंग पे ,कुछ हमरे देवर के साथ तो कुछ गांव के लड़कों के साथ... प्रियंका दीदी शर्म के मारे लाल हो गई... मेरी चंदा भाभी पूरी बेशर्मी के साथ बोल रही थी...

खुले आसमान के नीचे मेरी रूपाली दीदी अपनी चोली खोल दूध पिला रही थी मुन्नी को अपने यार और उसके दोस्त के आगे.. भाई की चुदाई दिखाओ दूध सी गोरी चूचियाँ.. मसली जाने की वजह से लाल हो गई थी.. उनकी घुंडियाँ एकदम कड़क हो गई थी.. फिर उसने ज़ोर ज़ोर से चूचियो को मसलना शुरू कर दिया..

न्यू सेक्सी पिक्चर वीडियो

  1. …. आह , उई ई ओह्ह फट गई , मर गई ओह , मेरी रूपाली दीदी की चीख निकल के पूरे गांव में पहुंच रही होंगी... मजदूरों के पास भी..
  2. तो भईया ने लंड को अन्दर सरकाना शुरू किया पर लंड अन्दर नहीं जा रहा था तो भईया भाभी से कहने लगे- डार्लिंग, तुम्हारी चूत तो बहुत टाईट हो गई है, लंड अन्दर ही नहीं जा रहा है? डॉग और गर्ल की सेक्सी पिक्चर
  3. अरे चीखने दो साल्ली को , बिना चीख पुकार के गांड मरौवल का मजा क्या। रोने दो , चोदो हचक हचक के..चोदो गांड इस छिनार की हचक के , फाड़ दो .. थोड़ी देर में ही, चन्दा भाभी फिर सिसकियां लेने लगी- रुक क्यों गये… डालो ना प्लीज… चोदो ना… उहुह… उह्ह्ह…
  4. भाई की चुदाई दिखाओ...Nimi toilet kar rahi thi aur mai washroom ke darwaje ke pas khadi thi. Bahar aniruddha uncle khade the. Usi samay aniruddha uncle ke pas kisi ka phone aa gaya aur wo us se baat karne lage. उनके घर जाकर मैं उनकी बहू से मिली, वैसे तो मैं उनसे पहले भी मिल चुकी थी जब वो हमारे घर आई थी पर हमारी ज्यादा बात नहीं हो पाई थी।
  5. अब वो अपना हाथ धीरे धीरे खिसकाते हुए कमर से होते हुए नाभी तक ले आया। पिछली बार की तरह फिर उसने अपना हाथ शर्ट में घुसाने की कोशिश की। पर शर्ट तो उसको छुआ ही नहीं, वो तो मैं पहले ही हटा चुकी थी। कुछ देर तक तो उस कमनीय हसीना को होंठ चुसवाना नहीं आया पर जैसे मैं उसके होंठ चूस रहा था वो उसी तरह मेरी नकल करने लगी

देहाती सेक्सी वीडियो bf

तरुण ने मेरी और देखा और मेरा हाथ अपने हाथ में ले कर सख्ती से पकड़ा और बोला, मैं तुमसे पूरी तरह सहमत हूँ। मेरा भी उसमें एक स्वार्थ है। मैं भी दीपा को सेक्स की पराकाष्ठा पर ले जाना चाहता हूँ, जिससे वह मुझसे दुबारा सेक्स करने को इच्छुक हो। पर उसके लिए तुम्हारी अनुमति भी आवश्यक है।

कुछ सोचने के बाद वह बोला कि वह मेरे साथ सो जायेगा। उसके यह कहते ही एक चुप्पी सी छा गयी। उसे अहसास हुआ की उसने क्या बोल दिया और तुरंत अपनी बात सुधारते हुए बोला कि वह पास में ही दूसरा बिस्तर लगा के सो जाएगा। मैनें चाय छानने के लिए तीन कप उतार किये थे, मुझे बाथरूम के दरवाजे के बंद होने की हलकी सी आवाज सुनाई दे गई थी, मैं समझ चुकी थी की मेरा छोटा भाई नहा चूका है और अब इधर ही आयेगा क्योंकि उसे भी जिज्ञासा होगी यह जानने की कि कौन आया है,

भाई की चुदाई दिखाओ,दीदी के गूँ गूँ करने की आवाज़ आ रही थी और चूड़ियाँ भी बहुत जोरो से खनक रही थी.. और यहाँ मैं यह सुन कर मदहोश होता जा रहा था..

तो वो दोनों वहाँ से अपने कमरे में चले गये। मुझे थोड़ा डर लग रहा था तो मैं भी उठ कर किचन में जाकर पानी पीने लगी।

कुछ कदम चलने के बाद मैंने पीछे मुड़ कर घर की छत को देखा जहां मैंने कभी ना भूलने वाली रात बितायी थी। वह अभी वही छत पर खड़ा था, शायद मौन रह कर माफ़ी मांग रहा था या शायद मुझे शुक्रिया कह रहा था।भाभी की हिंदी सेक्सी

उसकी एक ऊँगली गांड की दरारों में ऊपर नीचे हो रही थी। धीरे धीरे उसका हाथ नीचे जाता रहा और मेरी गीली चुत को छू गया। Vaani didi ke keerti ke gaal par thappad marte hi, keerti ki aankhon se aansu bahne lage. Thik usi samay neha bhi mere kamre ma aayi thi. Shayad wo vaani didi se hi kuch kahne aayi thi.

फिर कुछ रुक कर बोली, अब बात मेरी समझ में आयी। वह खुद बार बार कह रहा था की वह बहोत परेशान है और अपनी जान की भी उसे परवाह नहीं है; पर वह जब मेरे साथ रहता है तभी उसे सकून मिलता है। बापरे मुझे पता ही नहीं चला की बात यहाँ तक पहुँच गयी है।

उसने अब मुझे नीचे लेटाया और मेरे पाँव घुटनो से मोड़ कर ऊपर कर के चौड़ाई में थोड़े फैला दिए। अब वो फिर मेरी खुली चूत को भेदने के लिए तैयार था। मुझे ख़ुशी थी की प्रोटेक्शन की वजह से आज वो आगे के छेद में पूरा कर पायेगा और मुझे भी मजा दिलाएगा।,भाई की चुदाई दिखाओ मैं मीना पर चढ़ गया-तो मीना प्यार से टागों को फैला हाथों को मेरी पीठ पर फेरती -- बुर को लंड से इस प्रकार चिपकाई जैसे पूरी जानकार छोकरी हो । '

News