देसी गांव की लड़कियों की

फिशर का इलाज बाबा रामदेव

फिशर का इलाज बाबा रामदेव, ज़ाहिद अपनी अम्मी के जिस्म को देखते हुए सोचने लगा.कि उस की बहन शाज़िया की तरह उस की अम्मी का बदन भी काफ़ी भरा भरा है. कुछ देर तक अपनी बहन की फुद्दि में अपना लंड डाले और शाज़िया के जिस्म के ऊपर ही ढेर होने के बाद ज़ाहिद अपनी बहन के बदन के ऊपर से उठा. और अपने लंड को अपने लंड के वीर्य से शराबोर अपनी बहन की चूत से बाहर निकाला.

शाज़िया ये बात अच्छी तरह जानती थी. कि आज के बाद उस के भाई का होसला पहले सी भी बढ़ जाए गा. और वो फिर मोका देख कर उस से अपनी गंदी ख्वाहिश का इज़हार ज़रूर करे गा. हाईईईईई मेरी जान तुम हुकम तो दो मैं अभी अपने कपड़े उतार कर तुम्हारे सामने नंगा हो जाता हूँ ज़ाहिद अपनी बहन की बालों के बगैर सॉफ शफ़ाफ़ ब्राउन छोटी सी चूत को देखते हुए बोला.

ये सोच कर शाज़िया रज़ाई बीबी के कमरे में गई. और बिस्तर में लेटी हुई अपनी अम्मी से कहाअम्मी मेरे पीरियड्स अब ख़तम हो चुके हैं और में आज ही नहा भी लूँगी. फिशर का इलाज बाबा रामदेव साथ ही ज़ाहिद ने नीलोफर को पास पड़े पलंग पर पीठ के बल लिटा दिया. इस के साथ ही ज़ाहिद नीलोफर की एक तरफ लेट कर उस के एक मम्मे को अपने मुँह में लेते हुए सक करने लगा.

एचडी सेक्सी वीडियो दिखाओ

  1. दिन गुज़रते गये और शाज़िया की तरह ज़ाहिद भी अब उस वक्त के इंतिज़ार में दिन अपनी उंगलियों पर गिन रहा था.
  2. इसीलिए आज अपनी नज़रों के सामने अपनी ही अम्मी को अपने शोहर/भाई से चुदवाने का ख्याल दिल में आने पर शाज़िया को अपनी इस सोच पर ज़रा सी भी नदमत महसूस नही हो रही थी. हिंदी में चोदा चोदी वीडियो दिखाइए
  3. मगर रज़िया बीबी आख़िर कर शाज़िया की माँ थी. इसीलिए रज़िया बीबी ने अपनी किसी भी बात या हरकत से शाज़िया को ये महसूस नही होने दिया. कि वो ज़ाहिद और शाज़िया की चुदाई का मंज़र आज एक बार फिर देख कर अपनी फुद्दि की आग को अपने हाथों से ठंडा कर चुकी है. और फिर दोनो माँ बेटी एक दूसरे के मुँह में मुँह डाले एक दूसरे की ज़ुबान को बहुत गरम जोशी से सक करने लगी.
  4. फिशर का इलाज बाबा रामदेव...ये भी में और ज़ाहिद भाई आप ही के लिए लाए हैं अम्मी अपनी अम्मी की बात सुन कर शाज़िया के चेहरे पर एक शैतानी मुस्कराहट फैली. और बहुत सकून से अपनी अम्मी की बात का जवाब देते हुए शाज़िया किचन में दाखिल हो गई. मगर कहते हैं ना कि बकरे की माँ कब तक खैर मनाएगी. बिल्कुल इसी तरह शाज़िया वाले वाकये के तीसरे दिन जब ज़ाहिद दोपहर को अपने पोलीस स्टेशन गया. तो उस को पता चला कि एक केस की ग़लत इंक्वाइरी करने की वजह से एसपी साब ने उस को चार दिन के लिए सस्पेंड कर दिया है.
  5. ज्यों ही नीलोफर ज़ाहिद के पास बैठी तो ज़ाहिद ने उसे दुबारा अपने बाहों में जकड कर उस के गालों को चूमा. शाज़िया के जवान जिस्म से उठती हुई उस की प्यासी जवानी की खुसबू के साथ साथ परफ्यूम और मेहन्दी की खुसबू के मिलाप ने शाज़िया के बदन को और भी महका दिया था.

मां का सेक्सी वीडियो

रज़िया बीबी को अपने बेटे के जवान,सख़्त और बड़े लंड की गर्मी की तपिश अभी तक अपने हाथ पर महसूस हो रही थी. और इसी लिए अपने बेटे के लंड को याद कर कर के रज़िया बीबी की चूत पूरी तरह गीली हो चुकी थी.

इसी लिए वो शाज़िया की बातों को सुन सुन कर हैरानी से अपनी बेटी का मुँह देखते हुए उस से सवालो-ओ- जवाब किए जा रही थी. और इन सब बातों के दौरान रज़िया बीबी की चूत की गर्मी नीचे से अपना पानी छोड़ते छोड़ते अपनी इंतिहा को छूने लगी थी. उफफफफफफफफफफ्फ़ मेने आज तक इस बारे में तो कभी सोचा तक नही ज्यों ही शाज़िया के दिल में अपनी अम्मी की गुज़शता ज़िंदगी के बारे में ये ख्याल आया. तो शाज़िया के दिल में अपनी अम्मी के मुतलक जनम लेने वाला गुस्सा थोड़ा कम पड़ने लगा.

फिशर का इलाज बाबा रामदेव,मुरी पहुँचने तक ज़ाहिद ने रज़िया बीबी को और रज़िया बीबी ने ज़ाहिद को अपने अपने हाथों से खूब गरमा दिया था.

ज़ाहिद के लंड की बू से डरी हुई रज़िया बीबी तो ये समझ रही थी. कि उसे यक़ीनन अपने बेटे ज़ाहिद के लंड का कोई स्वाद नही आएगा.

अपनी अम्मी की ये बात सुन कर कमरे में जाते ज़ाहिद के कदम रुक गये .और उस ने तेज़ी से पलटते हुए अपनी अम्मी की तरफ देखा.हिंदी आवाज में बीएफ सेक्सी

इस दर्द की वजह शायद ये रही हो गी. कि रज़िया बीबी अपनी शादी के बाद से सिर्फ़ अपने मेरहूम सोहर के लंड की ही आदि थी.जो कि ज़ाहिद के लंड के मुकाबले में काफ़ी पतला और छोटा था. अगर उस की अम्मी रज़िया बीबी चाहती. तो अपने शोहर की वफात के बाद या तो दूसरी शादी कर लेती. या फिर अपनी जवानी की आग को बुझाने के लिए किसी गैर मर्द का सहारा ढूंड सकती थी.

ज़ाहिद ने कुछ देर शाज़िया के रिप्लाइ का इंतजार किया. मगर जब देखा कि शाज़िया उस को रिप्लाइ नही कर रही तो उस ने फिर लिखा नीलोफर ने मुझे आप की फोटोस दिखाई हैं. और यकीन माने जब से आप की फोटोस देखी हैं मेरे तो होश ही उड़ गये हैं.

बस ठीक ही था शाज़िया ने जब देखा कि उस का भाई आसानी से उसे छोड़ने वाला नही. तो अपने भाई को तंग करने के इरादे से जान बूझ कर उस ने ऐसा जवाब दिया.,फिशर का इलाज बाबा रामदेव मगर इस से पहले के दोनो माँ बेटे के दरमियाँ शुरू होने वाला ये खेल मज़ीद आगे बढ़ता .कि इतने में उन दोनो को शाज़िया के कदमों की आवाज़ सुनाई दी.

News